Ads

पापा के ब्लाग में नापसंद के चटके....!!! (कार्टून)

>> Tuesday, June 15, 2010



26 comments:

रंजन June 15, 2010 at 6:35 AM  

एक पसंद का मार आ.. डबल मनी मिलेगी...

संजय कुमार चौरसिया June 15, 2010 at 6:35 AM  

bahut badiya baat kartoon ke dwara

http://sanjaykuamr.blogspot.com/

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" June 15, 2010 at 6:36 AM  

हा हा हा बहुत खूब्! :)

राजकुमार सोनी June 15, 2010 at 6:42 AM  

हा.. हा... हा... ये ठीक है।

काजल कुमार Kajal Kumar June 15, 2010 at 6:48 AM  

हा.. हा... हा...
यह नुस्ख़ा भी अच्छा है ..बहुत अच्छा है
हा.. हा... हा...

पी.सी.गोदियाल June 15, 2010 at 7:08 AM  

हां-हां, ये सलीम लंगड़े को ............... !

Udan Tashtari June 15, 2010 at 7:42 AM  

हा हा!! बेचारे पापा!

संगीता पुरी June 15, 2010 at 7:47 AM  

हिंदी ब्‍लॉग जगत में नापसंद से किसी का मूड भी खराब हो सकता है ??

indli June 15, 2010 at 8:26 AM  

नमस्ते,

आपका बलोग पढकर अच्चा लगा । आपके चिट्ठों को इंडलि में शामिल करने से अन्य कयी चिट्ठाकारों के सम्पर्क में आने की सम्भावना ज़्यादा हैं । एक बार इंडलि देखने से आपको भी यकीन हो जायेगा ।

ललित शर्मा June 15, 2010 at 8:33 AM  

हा हा हा बहुत बढिया

girish pankaj June 15, 2010 at 9:23 AM  

हा.. हा... हा... बढिया.....

nonsense times June 15, 2010 at 10:17 AM  

na pasand ka chatka bachcho ko bhi khatka

nonsense times June 15, 2010 at 10:19 AM  

maine to pasand ka laga diya chaaaaatka

राजीव तनेजा June 15, 2010 at 10:43 AM  

हा..हा..हा...बहुत बढ़िया

'अदा' June 15, 2010 at 4:03 PM  

ha ha ha ha...
ye bhi khoob rahi..

आचार्य जी June 15, 2010 at 11:55 PM  

आईये जानें ..... मैं कौन हूं !

आचार्य जी

ajay saxena June 16, 2010 at 12:51 AM  

आप सब ब्लागरों का धन्यवाद ...आप सबने मेरा उत्साह बढाया..ईश्वर आपको नापसंद के चटके से मरहूम रखे...आमीन

ajay saxena June 16, 2010 at 4:34 AM  

दो नापसंद का चटका लगा कर मुझे हाट लिस्ट से नीचे उतारने वाले सज्जन का अभिवादन,धन्यवाद,आभार, भगवान आपका भला करे

Mired Mirage June 16, 2010 at 6:06 AM  

हाहाहा! चलिए अपने तो बच्चे बड़े हो गए हैं।
घुघूती बासूती

Maria Mcclain July 8, 2010 at 12:00 PM  

You have a very good blog that the main thing a lot of interesting and beautiful! hope u go for this website to increase visitor.

Post a Comment

indali

Followers

  © Blogger template Simple n' Sweet by Ourblogtemplates.com 2009इसे अजय दृष्टि के लिये व्यवस्थित किया संजीव तिवारी ने

Back to TOP