Ads

तूलिका के जादूगर मशहूर चित्रकार मकबूल फिदा हुसैन को श्रद्घांजलि ‎...

>> Thursday, June 9, 2011


तूलिका से कभी संवेदनाओं की रेखा खींची
मोहब्बत के रंगों से भावनाओं को अभिव्यक्त किया।
हर लम्हा प्यार का, हर सहर खुशनुमा, मोहब्बत बांटते रहो, यही है जिंदगी का फलसफा, जाते-जाते जिसने दुनिया को पैगाम दिया...

3 comments:

शिखा कौशिक June 9, 2011 at 6:51 PM  

husain ji ko meri or se bhi bhavbhari sharaadhanjli .

अमित जैन (जोक्पीडिया ) June 10, 2011 at 12:39 AM  

बावली पूछ जों भारत का न हुआ उस को कैसी श्रधांजलि

SAMEER June 20, 2011 at 5:42 AM  

kalakar kahi ka bhi ho lekin uske kala ko jarur shrdhanjali.

Post a Comment

indali

Followers

  © Blogger template Simple n' Sweet by Ourblogtemplates.com 2009इसे अजय दृष्टि के लिये व्यवस्थित किया संजीव तिवारी ने

Back to TOP